5 करोड़ 44 लाख रु से अधिक के अवार्ड पारित

9:38 am or July 14, 2019
5 करोड़ 44 लाख रु से अधिक के अवार्ड पारित
महावीर अग्रवाल
मंदसौर १४ जुलाई ;अभी तक;  नेशनल लोक अदालत पांच करोड़ चवांलीस लाख चालीस हजार पांच सौ सोलह रू. का अवार्ड पारित किया गया।
5 करोड़ 44 लाख रु से अधिक के अवार्ड पारित

5 करोड़ 44 लाख रु से अधिक के अवार्ड पारित

राट्रीय विधिक सेवा प्राधिकरण नई दिल्ली एवं राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण जबलपुर के निर्देानुसार एवं जिला एवं सत्र न्यायाधी एवं अध्यक्ष जिला विधिक सेवा प्राधिकरण मंदसौर श्री तारकेवर सिंह के मार्गर्दान में दिनांक 13 जुलाई 2019 शनिवार को नेशनल लोक अदालत का आयोजन जिला न्यायालय मंदसौर एवं तहसील न्यायालय गरोठ, भानपुरा, नारायणगढ़, सीतामऊ में किया गया।उक्त आयोजित नेनल लोक अदालत का शुभारंभ जिला मुख्यालय पर वैकल्पिक विवाद समाधान केन्द्र ए.डी.आर. भवन मंदसौर के सभाकक्ष में जिला एवं सत्र न्यायाधी/अध्यक्ष महोदय जिला विधिक सेवा प्राधिकरण मंदसौर श्री तारकेवर सिंह द्वारा माँ सरस्वती के चित्र पर दीप प्रज्जलन एवं माल्यार्पण कर किया गया।

               इस अवसर पर उच्च न्यायालय के सेवानिवृत्त न्यायाधीश श्री जी.डी. सक्सेना, विशे न्यायाधीश श्री अनी कुमार मिश्रा, जिला अभिभाक संघ के अध्यक्ष श्री जयदेवसिंह चौहान, सेवानिवृत जिला न्यायाधीश श्री रघुवीरसिंह चुण्डावत, प्रधान न्यायाधीश श्री लखनलाल गर्ग, सचिव जिला विधिक सेवा प्राधिकरण, मंदसौर श्री रईस खान, प्रथम अपर जिला न्यायाधीश श्री एन. एस. बघेल, तृतीय अपर जिला न्यायाधीश श्री रूपेश गुप्ता, चतुर्थ अपर जिला न्यायाधीश श्री जयंत ार्मा, पंचम अपर जिला न्यायाधीश श्री इंद्रजीत रघुवंशी, मुख्य न्यायिक मजि. श्री संतो चौहान, न्यायिक मजि. प्रथम श्रेणी, श्रीमती मंजूसिंह न्यायिक मजि. प्रथम श्रेणी, श्री आलोकप्रतापसिंह न्यायिक मजि. प्रथम श्रेणी, श्री समीर मिश्र न्यायिक मजि. प्रथम श्रेणी, श्री अनिरूद्ध जैन न्यायिक मजि. प्रथम श्रेणी, श्री सुशील गहलोत न्यायिक मजि. प्रथम श्रेणी, प्रशिक्षु न्यायाधीश सुश्री देशनां जैन, सुश्री वैशाली पटेलिया, अभिभाक संघ के सचिव श्री अजय सिखवाल, सिविल सर्जन श्री ए.के.मिश्रा, अभिभाकगण, बैंक एवं बीमा कम्पनी के अधिकारीगण, सामाजिक कार्यकर्ता, पैरालीगल वॉलेन्टियर्स उपस्थित रहे।
                    इस अवसर पर जिला अस्पताल से सिविल सर्जन श्री ए.के. मिश्रा द्वारा विभिन्न विाज्ञों के साथ उपस्थित होकर न्यायाधीगण, अभिभाकगण एवं पक्षकारों का स्वास्थ्य परीक्षण किया गया। कार्यक्रम का संचालन वरिठ पत्रकार श्री बृजे जोी द्वारा किया गया एवं आभार जिला विधिक सहायता अधिकारी योगे बंसल द्वारा माना गया। उक्त लोक अदालत में 3877 कोर्ट में लंबित मामले निराकरण के लिए रखे गए थे जिसमें से कुल 496 प्रकरणों का निराकरण किया गया। कुल 7221 प्रीलिटिगेन रखे प्रकरण में से 697 प्रकरणों का निराकरण किया गया जिसमें 12,61,045/- राा का अवार्ड पारित किया गया। मोटर दुर्घटना क्षतिपूर्ति दावा संबंधी 51 प्रकरण निराकृत किए गए। जिसमें कुल राा 1,66,61,000/- का अवार्ड पारित किया गया। इस लोक अदालत में धारा 138 के अंतर्गत चैक वाउंस के 227 प्रकरण निराकृत किए गए जिसमें कुल राा रू. 2,64,35,325 का अवार्ड पारित किया गया एवं नगर पालिका के कुल 912 प्रकरण निराकृत किये जाकर राशि रू. 22,15,585/- रू. की वसूली हुई।विशेष प्रकरण-श्रीमती रेखा बाई द्वारा उसके पति जो विद्युत वितरण कम्पनी में लाईनमेन थे, की वाहन दुर्घटना में मृत्यु होने के कारण श्री एन.एस. बघेल, प्रथम अतिरिक्त सदस्य मोटर दुर्घटना दावा अधिकरण के समक्ष वाहन के स्वामी, ड्राईवर एवं न्यू इण्डिया इंश्योरेंस कम्पनी के विरूद्ध दावा किया, उक्त दावे में 51,68,577/- रूपये मय ब्याज देनें का आदेश हुआ। किन्तु बीमा कम्पनी के द्वारा निपादन के दौरान राशि जमा नही की। उक्त लोक अदालत में बीमा कम्पनी के क्षेत्रीय प्रबंधक द्वारा राशि रूपये 60,59,119/- का चैक मृतक की पत्नि व उसके बच्चों को अदा किया गया।

About the author /


Post your comments

Your email address will not be published. Required fields are marked *