नक्सलियों ने लगाई तेंदूपत्ता गोदाम में आग

गरियाबंद, 12 जून ; छत्तीसगढ़ के नक्सल प्रभावित गरियाबंद जिले में नक्सलियों ने तेंदूपत्ता गोदाम में आग लगा दी। इस घटना में नौ करोड़ रुपए के नुकसान की आशंका है।

गरियाबंद क्षेत्र के वन मंडल अधिकारी जेआर भगत ने बुधवार को यहां बताया कि मंगलवार रात जिले के मैनपुर थाना क्षेत्र के अंतर्गत नवामुड़ा गांव में स्थित तेंदूपत्ता गोदाम में नक्सलियों ने आग लगा दी है। तबाह हुए तेंदूपत्ते की कीमत लगभग नौ करोड़ रुपए है। तेंदूपत्ते का उपयोग बीड़ी बनाने में किया जाता है।

भगत ने बताया कि उन्हें जानकारी मिली है कि मंगलवार रात लगभग एक दर्जन हथियारबंद नक्सली नवामुड़ा गांव में स्थित तेंदूपत्ता गोदाम पहुंचे थे। नक्सलियों के इस दल में महिला नक्सली भी शामिल थी। यहां तेंदूपत्ता के तीन गोदाम हैं।

उन्होंने बताया कि हथियारबंद नक्सलियों ने पहले यहां मौजूद तीन चौकीदारों को अपने कब्जे में लिया और यहां के एक गोदाम का ताला तोड़कर उसमें रखे 1700 मानक बोरे तेंदूपत्ता में आग लगा दी।

घटना के बाद नक्सलियों ने चौकीदारों को एक कमरे में बंद कर दिया और वहां से फरार हो गए। इस घटना में गोदाम में रखा तेंदूपत्ता पूरी तरह से जल गया और गोदाम भी नष्ट हो गया।

वन विभाग के अधिकारी ने बताया कि घटना की जानकारी मिलने के बाद वन विभाग और पुलिस के अधिकारी घटनास्थल के लिए रवाना हो गए। दमकल वाहनों को भी भेजा गया है। उन्होंने बताया कि दमकल वाहन आग पर काबू पाने की कोशिश कर रहे हैं।

जिले के पुलिस अधिकारियों ने बताया कि पुलिस को घटनास्थल से नक्सलियों का पर्चा बरामद हुआ है। जिसमें नक्सलियों ने आरोप लगाया है कि ग्रामीणों को तेंदूपत्ता संग्रहण का पूरा पैसा नहीं दिया जा रहा है इसलिए उन्होंने तेंदूपत्ता गोदाम में आग लगा दी है।

पुलिस अधिकारियों ने बताया कि घटना के लिए जिम्मेदार नक्सलियों की खोज शुरू कर दी गई है।

About the author /


Post your comments

Your email address will not be published. Required fields are marked *