माँ नर्मदा जयंती आस्था भक्ति के साथ नर्मदे हर हर के जयकारे चुनरी दीप दान महाआरती और हुये भंडारे

5:44 pm or February 12, 2019
माँ नर्मदा जयंती आस्था भक्ति के साथ नर्मदे हर हर के जयकारे चुनरी दीप दान महाआरती और हुये भंडारे
सलिल राय
मंडला १२ फरवरी ;अभी तक; मध्यप्रदेश के मण्डला जिले भर में नर्मदा जयंती महा पर्व पर आज सुबह से बड़ी संख्या में श्रद्धालुओं ने आस्था भक्ति के साथ माँ नर्मदा के सभी घाटों और जिले के सभी नर्मदा तटों में हर हर नर्मदे हर के जय घोष के साथ आस्था की डुबकी लगाई इस दौरान दिन भर नर्मदा नदी के सभी मुख्य मार्गो में जाम लगा रहा।
माँ नर्मदा जयंती आस्था भक्ति के साथ नर्मदे हर हर के जयकारे चुनरी दीप दान महाआरती और हुये भंडारे

माँ नर्मदा जयंती आस्था भक्ति के साथ नर्मदे हर हर के जयकारे चुनरी दीप दान महाआरती और हुये भंडारे

अपार जनमेदनी पुन्य सलिला माँ नर्मदा के जल रूप और जगह जगह विराजित माँ नर्मदा की मूर्तियों की पूजा हवन आरती के साथ नर्मदा नदी को चुनरी के बडे आयोजन दिन भर चलते रहे वही नर्मदा किनारे और नगर में बड़ी संख्या में महाप्रसादी के साथ भंडारो में व्यक्तिगत सामाजिक संस्थाओ सरकारी दफ्तरों के संगठनों मन्दिरो व्यवसायिक वर्गों ने बढ़चढ़कर माँ नर्मदा जयंती पर्व को जिले के बड़े धर्म आयोजन में नर्मदा जयंती एक बड़ी पहचान बन गई हैं।

                 आज जहाँ माँ नर्मदा की विराजित प्रतिमाओं के बड़ी शोभायात्रा निकली इस दौरान शोभायात्रा का नगर में स्वागत पूजन किया गया।
   नर्मदा नदी के दोनों तटों में चुनरी रूप में साड़ियों को नर्मदा जल में अर्पण किया गया ।  जिला प्रशासन पुलिस प्रशासन नगर प्रशासन होमगार्ड्स ने अपनी सेवाएं दी इस दौरान सामाजिक संगठनो ने भी सड़को में उमड़ी जनमेदनी को नियंत्रित करते देखे गये।
                    मण्डला जिले के साथ अन्य जिलों से भी श्रद्धालु मण्डला में माँ नर्मदा जयंती पर्व में शामिल हो विशेष पूजन उपासना की गई। शाम के समय माँ नर्मदा नदी में दीपदान की झिलमिलाती ज्योति एक अलग परिदृश्य में मनमोहकता और श्रद्धा के दर्शन करा रही थी ।   सभी मन्दिरो को पिछले कई दिनों से रँगबिरंगी विधुत रोशनी से सजाया सवारा गया था।
                   मण्डला में मुख्य आयोजन रपटा घाट में देखने को मिला जहाँ आज दिन भर श्रद्धालुओं की बड़ी संख्या में आवाज जावक से यातायात बाधित रहा
                     दूसरी तरफ प्रसाद भण्डारो से उपयोग के बाद लोगो ने स्वच्छता को नजरअंदाज किया तो अनेक स्थानों में स्वमसेवी लोगो ने अपना योगदान दे सफाई करते भी दिखाई दिये ।

About the author /


Post your comments

Your email address will not be published. Required fields are marked *