करतारपुर कॉरिडोर खोला जाना विश्व शांति का संदेश : राणा जसवीर सिंघ

मयंक शर्मा
 खंडवा ११ जनवरी ;अभी तक;  गुरु गोविंद सिंघ के 552 साला प्रकश पर्व पर खंडवा में पंजाब की निशाने खालसा गतका पार्टी ने हैरतअंगेज प्रदर्शन कर सभी के दांतों तले ऊँगली दबा दी। गतका पार्टी ने जहां तलवारबाजी का प्रदर्शन किया तो वहीं एक सख्स के हाथ पैर बांध कर चारों दिशाओं में बुलेट से खींचा इतना ही नहीं करीब बीस लोगों को एक ट्रेक्टर पर सवार कर उस ट्रेक्टर को एक नवजवान की पीठ पर से गुजार सभी को हैरत में डाल दिया। पंजाब से आई गतका पार्टी में लड़कियों ने भी एक से बढ़कर एक खतरनाक स्टंट किये। खंडवा बड़ा गुरुद्वारा के मुख्य ग्रंथि ने करतारपुर कॉरिडोर खोले जाने पर इसे दो देशों के आपसी रिश्तो को मजबूत बनाने के साथ ही विश्व शांति के सन्देश का कदम भी बताया।
                         खंडवा के कलगीधर गुरुद्वारा में गुरु गोविंद सिंघ के 552 साला प्रकश पर्व धूमधाम से मनाया जा रहा हैं। प्रकश पर्व पर सप्ताह भर से अलग अलग कर्यकर्मो का आजोजन किया जा रहा हैं। वहीं गुरुवार की रात खंडवा के गुरु गोविंद सिंघ स्टेडियम में पंजाब से आई गतका पार्टी ने एक से बढ़ कर एक हैरतअंगेज स्टंट कर सभी को हैरत में डाल दिया। गुरु सिंघ सभा के सदस्य सरदार रणवीर सिंघ चावला ने बताया कि गतका दरअसल सिखों के दसवें गुरु गुरु गोविंद सिंघ ने शुरू किया था इस गतका को शुरू करने का उद्देश्य युद्ध अभ्यास और शरीर में स्फूर्ति बनाए रखने का था। उन्होने कहा कि खंडवा में ये दूसरी बार आयोजित किया जा रहा है ताकि सभी लोग सिखों के शौर्य और पराक्रम से परिचित हो सके।
                    552 साला प्रकश पर्व आयोजित इस आयोजन में शामिल होने पहुंचे बड़ा गुरुद्वारा सिंघ सभा के मुख्य ग्रंथि सरदार राणा जसवीर सिंघ ने करतारपुर कॉरिडोर को खोले जाने पर कहा पूरी सीख़ कौम का हर व्यक्ति हर रोज यही अरदास करता हैं की जो पाकिस्तान में गुरुद्वारा हैं उसके खुले दर्शन हो। उन्होंने कहा की दोनों देशों की सरकार ने करतारपुर कॉरिडोर खोलने का जो निर्णय लिया हैं उस से दोनों देशों के संबध तो सुधरेंगे ही साथ ही विश्व शांति का मार्ग भी खुलेगा।

About the author /


Post your comments

Your email address will not be published. Required fields are marked *