National

देश की सारी बीमारियों की जड़ कांग्रेस : मोदी

सीकर (राजस्थान), चार दिसंबर ; प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कांग्रेस को देश की सारी समस्याओं की जड़ बताते हुए मंगलवार को कहा कि उसके नेता सेना का अपमान करते हैं। ‘भारत माता की जय’ को लेकर भी मोदी ने कांग्रेस तथा इसके अध्यक्ष राहुल गांधी पर निशाना साधा और कहा कि हिन्दुस्तान के बेटों के मुंह से ‘भारत माता की जय’ का नारा छीनने वाले ये लोग होते कौन हैं।

मोदी ने यहां अपने भाषण की शुरुआत दस बार ‘भारत माता की जय’ बुलवाकर की।

उन्होंने कहा, ‘‘कांग्रेस के एक नामदार हैं। उस नामदार ने आज फतवा निकाला है कि मोदी को चुनावी सभाओं की शुरुआत ‘भारत माता की जय’ से नहीं करनी चाहिए। और इसलिए मैंने आज इन लाखों लोगों की मौजूदगी में कांग्रेस के नामदार के फतवे को चूर-चूर कर दस बार भारत माता की जय बुलवाई।’’

दरअसल, इससे थोड़ी देर पहले राहुल गांधी ने हनुमानगढ़ में अपनी जनसभा में कहा था, ‘‘हर भाषण में मोदी कहते हैं भारत माता की जय और काम करते हैं अनिल अंबानी के लिए.. उन्हें अपने भाषण की शुरुआत करनी चाहिए अनिल अंबानी की जय…मेहुल चौकसी की जय.. नीरव मोदी की जय….ललित मोदी की जय से।’’

मोदी ने अपनी सभा में पलटवार किया और दस बार ‘भारत माता की जय’ बुलवाने के बाद कहा, ‘‘हिन्दुस्तान के बेटों के मुंह से भारत माता की जय का नारा छीनने की हिम्मत करने वाले वे होते कौन हैं।’’

प्रधानमंत्री ने अपने भाषण में यह भी कहा, ‘‘अगर राजस्थान का भविष्य बदलना है तथा इसे और गति से आगे बढ़ाना है तो कांग्रेस का एक भी नुमाइंदा यहां से जीतना नहीं चाहिए। देश की सारी बीमारियों की जड़ कांग्रेस है।’’

मोदी ने यह भी आरोप लगाया कि कांग्रेस ने बलात्कार के मामलों में सजायाफ्ता लोगों के परिजनों को टिकट दिया है।

उन्होंने कहा, ‘‘हम बेटियों के सम्मान में काम करने वाले लोग हैं और वसुंधरा राजे सरकार ने बलात्कार के मामले में कम से कम समय में जांच पूरी कर, आरोपत्र दायर कर, मामला चलाकर, फांसी की सजा दिलवाने का काम किया।’’

मोदी ने कांग्रेस पर सेना का अपमान करने और उसके लिए अभद्र भाषा इस्तेमाल करने का आरोप लगाया। उन्हों कहा कि ‘‘पार्टी के एक नेता ने देश की सेना के अध्यक्ष को सड़क छाप गुंडा कहा।’’

प्रधानमंत्री ने कहा कि उनकी सरकार ने वर्षों से लंबित वन रैंक-वन पेंशन की मांग को पूरा किया।

मोदी ने कहा कि कांग्रेस ने बैंकों को बर्बाद किया और आज ये नामदार किसानों के नाम पर रेवड़ी बांटते घूम रहे हैं।

उन्होंने कहा, ‘‘राजनीति में लोकतंत्र में आपको जनता की आंख में धूल झोंकने का हक नहीं है। 2009 में लोकसभा चुनाव से पहले भी किसानों से कर्ज माफी का वादा किया गया था, लेकिन छह लाख करोड़ रुपये कर्ज था और माफ किया 58,000 करोड़ रुपये।’’

मोदी ने कहा, ‘‘कांग्रेस ने कर्नाटक में भी राजस्थान की तरह किसानों का कर्ज माफ करने का वादा किया। लेकिन कांग्रेस वहां हार गयी तो ये लोग पिछले दरवाजे से देवेगौड़ा को गले लगाकर कुर्सी से चिपक गए। अब वे कर्ज माफ करने की बजाय, जो किसान कर्ज नहीं चुका रहे हैं, उनका वारंट निकाल रहे हैं।’’

About the Author

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *