State

मतगणना की शुरूआत डाकमतों की गिनती से होगी

मयंक भार्गव, बैतूल से
बैतूल, 03 दिसंबर ;अभी तक;  विधानसभा चुनाव के तहत 11 दिसंबर को होने वाली मतगणना की शुरूआत डाकमत पत्रों की गणना से होगी, लेकिन इलेक्ट्रॅानिक वोटिंग मशीन में डले मतों की गणना शुरू करने के लिए डाकमत पत्रों की गणना खत्म होने का इंतजार नहीं किया जायेगा।
निर्वाचन आयोग के निर्देशों के मुताबिक ईव्हीएम के मतों की गणना का काम डाकमत पत्रों की गणना शुरू होने के आधा घंटे बाद प्रारंभ किया जा सकेगा। हालांकि आयोग ने अपने निर्देशों में यह भी कहा है कि ईव्हीएम के आखिरी दौर के पहले वाले दौर (पेनल्टीमेट राउण्ड) के मतों की गणना का काम डाक मतपत्रों की गणना का काम खत्म हो जाने के बाद ही शुरू किया जाना चाहिए।
                   भारत निर्वाचन आयोग ने इस बार डाकमत पत्रों की गणना के लिए प्रत्येक रिटर्निंग अधिकारी को एक सहायक रिटर्निंग अधिकारी तथा दो गणना पर्यवेक्षक और दो गणना सहायकों को नियुक्त करने की मंजूरी भी प्रदान की है।
                   निर्वाचन आयोग के निर्देश के अनुसार मतगणना राउण्डवार सम्पन्न होगी। निर्वाचन आयोग द्वारा तैनात प्रेक्षक प्रत्येक दौर में मतगणना की रेण्डम जांच करेंगे। इसके अलावा आयोग के रिकार्ड के लिए मतगणना कक्षों की वीडियो रिकार्डिंग भी कराई जायेगी। मतगणना के पूर्व गणना पर्यवेक्षक इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन के केयरिंग केश के नंबर तथा मशीन पर अंकित नंबर का मिलान करेंगे और मशीन अभ्यर्थी के एजेन्ट को भी दिखायेंगे। साथ ही ईव्हीएम में लगी सील भी अभ्यर्थियों के एजेन्ट्स को दिखाई जायेगी। इसके बाद कंट्रोल यूनिट का टोटल बटन दबाकर डाले गये कुल मतों की संख्या ज्ञात की जायेगी। इसका मिलान पीठासीन अधिकारी द्वारा मतलेखा में दर्ज मतों की संख्या से किया जायेगा। मिलान नहीं होने पर जानकारी रिटर्निंग अधिकारी को दी जायेगी। इस स्थिति में रिटर्निंग अधिकारी के आदेश के बाद ही आगे की मतगणना होगी।
                 संबंधित विधानसभा क्षेत्र के चुनाव प्रेक्षक के काउन्टर सिग्नेचर के बाद ही रिटर्निंग अधिकारी राउण्डवार परिणामों की घोषणा करेंगे।

About the Author

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *