कलेक्टर ने इस बात से इंकार किया कि स्ट्रांग रुम को बीच में खोला गया

मयंक शर्मा
 खंडवा २ दिसम्बर ;अभी तक;  कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी विशेष गढ़पाले ने बताया कि 28 नवम्बर को मतदान दिवस मध्यरात्री के पश्चात जिले की सभी चार विधानसभा क्षेत्रों में मतदान में उपयोग की गई सभी ईवीएम मशीनें जिला मुख्यालय पहुंचने पर तड़के 4.45 बजे इन्हें विधिवत रुप से स्ट्रांग रुम में रख दिया गया। इस मौके पर निर्वाचन आयोग के प्रेक्षक व पुलिस अधीक्षक व अन्य व्यक्ति मौजूद थे। अब यह स्ट्रांग रुम मतगणना के दिन ही खोला जायेगा। स्ट्रांग रुम सील किये जाने के संबंध में लिखित सूचना सभी राजनैतिक दलों के पदाधिकारियों को दी गयी थी। उन्होंने इस बात से इंकार किया कि
स्ट्रांग रुम को बीच में खोला गया है। यह बात पूरी तरह निराधार है।
इस बात से इंकार किया कि स्ट्रांग रुम को बीच में खोला गया

इस बात से इंकार किया कि
स्ट्रांग रुम को बीच में खोला गया

उन्होंने पंधाना विधानसभा क्षेत्र की तीन ईवीएम मशीनों को बाद में खंडवा पहुंचाने के आरोप को नकारते हुए कहा कि वास्तव में ये तीन सेट्स डाइड संस्थान के वेयर हाउस में रखी गयी थी। इसके पंचनामा राजनीतिक दलों के पदाधिकारी एवं अभ्यर्थियों की उपस्थिति में तैयार हुए थे। वीडियोग्राफी

भी करायी गयी थी। उक्त मशीनों में से एक मशीन छैगांव माखन से तथा दो मशीनें पंधाना से लायी गयी थी। ईवीएम एवं वीवीपेट निर्वाचन में उपयोग हुई
मशीनों से पूर्णतः पृथक है। चुनाव अधिकारियों ने शनिवार को स्ट्रांग रुम एवं डाइड परिसर की सम्पूर्ण सुरक्षा व्यवस्था की समीक्षा की। इसका अवलोकन भी संबंधित दलों एवं अभ्यर्थियों के अभिकर्ताओं को कराया गया। सुरक्षा व्यवस्था पूरी तरह चुनाव आयोग के मापदंडों के अनुरुप ही है। स्ट्रांग रुम में सीसीटीवी
कैमरे पूर्व से लगे हुए है। पुलिस विभाग द्वारा परिसर के बाहर भी अतिरिक्त सीसीटीवी कैमरे लगा दिये गये है।
                    श्री गढ़पाले ने बताया कि 26 नवम्बर से अब तक सीसीटीवी कैमरेां के बैअप रखते हुए डाटा सुरक्षित रखने का निर्णय भी लिया गया है। सीलिंग के दौरान लिये गये वीडियोग्राफी भी सुरक्षित रखे जायेंगे। सभी सीसीटीवी कैमरों को आॅन लाइन करने का निर्णय भी लिया गया है। ताकि पारदर्शिता स्थापित रहे। समय समय पर डायल 100 एवं पुलिस कागश्ती दल भी परिसर का चक्कर लगाकर निगरानी रख रहा है। मतगणना दिवस मतगणना स्थल पर प्रेस/मीडिया के लिये पृथक कक्ष नियत किया गया है जिसमें टेलीविजन लगा होगा ताकि प्रत्येक राउंड की जानकारी दी जा सके।
उल्लेखनीय है कि एक प्रमुख समाचार पत्र  ने यह खबर प्राथमिकता से छापी कि पंधाना ब्लाॅक के ग्राम खुरई में 48 घंटे बाद ईवीएम मशीनें जमा हुई है। यहां के तीन ईवीएम और दो वीवीपैट मशीनें शुक्रवार सुबह निर्वाचन अधिकारी के लेटर के बाद डाइट में जमा करायी गयी थी। तीनों मशीनें रिजर्व थी । पत्र में यह भी कहा गया कि पंधाना एसडीएम से जब चर्चा की गयी तो उन्होंने फोन काॅल काट दिया था।

About the author /


Post your comments

Your email address will not be published. Required fields are marked *