अखबार की रद्दी में दिए जाने वाले खाद्य पदार्थ की बिक्री पर लगाई जाए रोक -ग्राहक पंचायत

महावीर अग्रवाल
मंदसौर ४ दिसंबर ;अभी तक; अखिल भारतीय ग्राहक पंचायत के जिलाध्यक्ष नवनीत शर्मा ने जानकारी देते हुए बताया कि कुछ समय से बहुत अधिक मात्रा में यह सुनने में व देखने मे आरहा है कि लोगो को साइलेंट अटैक, केंसर व अन्य प्रकार की गंभीर बीमारियां हो रही है परंतु यह समझ पाना काफी कठिन था कि आखिर इन बीमारियों की उत्पत्ति किस चीज से हो रही है क्योंकि हम जाने अनजाने में बहुत से ऐसे खाद्य पदार्थ का सेवन कर लेते है जो दूषित होती है या दूषित वस्तुओं के सम्पर्क में आई हुई होती है । जैसे बात की जाए खाद्य पदार्थ में समोसा, कचोरी, आलूबड़ा, सैंडविच, जलेबी इत्यादि खाद्य पदार्थ दुकानदार अखबार की रद्दी में बांध कर देता है उससे शरीर को काफी नुकसान होता है जो हमे देखने से तो नही लगता है पर होता घातक है । जब हम उस अखबार की रद्दी को हाथ साफ करने के लिए रगड़ते तो उसकी स्याही हाथ मे आजाती है और वही शाही खाद्य पदार्थ के सम्पर्क में आकर पेट मे चली जाती है ।
अखबार की रद्दी में दिए जाने वाले खाद्य पदार्थ की बिक्री पर लगाई जाए रोक -ग्राहक पंचायत

अखबार की रद्दी में दिए जाने वाले खाद्य पदार्थ की बिक्री पर लगाई जाए रोक -ग्राहक पंचायत

कई प्रकार के शोध व डॉक्टरों  ने भी बताया कि स्याही में मल्टी एक्टिव बायोकेमिकल मिले होते है जो धीरे धीरे पेट मे घाव बनाने लगते है जो कुछ समय शरीर के लिए किस प्रकार की बीमारी खड़ी कर दे , यह बताना सम्भव नही होता है। अतः अखिल भारतीय ग्राहक पंचायत ने आज उक्त विषय को लेकर एक ज्ञापन खाद्य अधिकारी जामोद को दिया उसमे उन्हें पूरे विषय से अवगत कराया तत्पश्चात उन्होंने आश्वस्त किया कि अगले सप्ताह में होटल हलवाई संघ की बैठक बुलाकर उनसे इस मामले पर चर्चा कर अखबार की रद्दी में खाद्य पदार्थ देने से मना किया जायेगा। इस अवसर पर ग्राहक पंचायत के प्रांत कार्यकारणी सदस्य मिथुन वप्ता, जिला अध्यक्ष नवनीत शर्मा, अभ्यास मण्डल प्रमुख उमरावसिंह जैन, जिला सचिव विजय कोठारी, जिला कोषाध्यक्ष संजय जोशी, जिला मीडिया प्रभारी रवि राठौड़, जिला उपाध्यक्ष आशीष भाटिया, नगर अध्यक्ष सुनील ठाकुर, नगर उपाध्यक्ष शुभम भाटी सहित आदि कार्यकर्ता उपस्थित थे।उक्त जानकारी रणजीत जायसवाल ने दी।।

About the author /


Post your comments

Your email address will not be published. Required fields are marked *