प्रभु प्रेमी संघ ने किया पाटोत्सव निरस्त 

अरुण त्रिपाठी
रतलाम 10 नवंबर ;अभी तक;  जूना पीठाधीश्वर आचार्य स्वामी श्री अवधेशानंद गिरी जी महाराज द्वारा संस्थापित प्रभु प्रेमी संघ ने रतलाम में कार्तिक पूर्णिमा पर प्रतिवर्ष आयोजित होने वाला पाटोत्सव इस वर्ष अमन चैन की कामना के साथ निरस्त कर दिया है। नतीजतन इस वर्ष सुबह प्रभातफेरी भी नही निकलेगी और  सत्संग,पादुका पूजन एवं भजनों का आयोजन भी नही होगा।
                      प्रभु प्रेमी संघ के कार्याध्यक्ष हरीश सुरोंलिया ने बताया कि कार्तिक पूर्णिमा पर संघ का स्थापना दिवस प्रतिवर्ष धूमधाम से मनाया जाता है। इसके तहत इस वर्ष 12 नवम्बर को सुबह 6:00 बजे माणक चौक स्थित गोपाल जी का बड़ा मंदिर से प्रभातफेरी एवं शाम को 4:00 बजे श्री कालिका माता सत्संग भवन में सत्संग, पादुका पूजन एवं भजन का कार्यक्रम आयोजित किया गया था। संघ द्वारा वर्तमान परिस्थितियों को देखते हुए शहर में अमन-चैन भाईचारा और खुशहाली की भावना से सभी कार्यक्रम निरस्त करने का निर्णय लिया गया है। उन्होंने धर्म प्रेमी गुरुभक्तों से आव्हान किया है कि प्रभु प्रेमी संघ के स्थापना दिवस पर सदभाव, भाईचारा एवं प्रेम का संकल्प प्रदर्शित कर एकजुटता प्रकट करे।

About the author /


Post your comments

Your email address will not be published. Required fields are marked *