श्री पशुपतिनाथ महादेव मेले के समकक्ष नहीं लगेगा निजी मेला

महावीर अग्रवाल
 मन्दसौर १० नवंबर ;अभी तक;  मेला व्यवस्थापक एवं पार्षद संगीता गोस्वामी ने बताया कि उनके द्वारा श्री पशुपतिनाथ मंदिर मेले के समीप ही निजी मेला लगाने वालों के विरूद्ध मोर्चा खोलते हुए कलेक्टर मनोज पुष्प, नपाध्यक्ष मो. हनीफ शेख और सीएमओ सविता प्रधान को पत्र लिखकर भगवान श्री पशुपतिनाथ महादेव मेले के समीप कलेक्टर महोदय के अधीन भूमि पर निजी ठेकेदारों द्वारा लगाये जाने वाले निजी मेले की अनुमति नहीं देने, मेले हेतु किये जा रहे निर्माण कार्य को हटाये जाने व उनके विरूद्ध कार्यवाही करने की मांग की थी।
श्री पशुपतिनाथ महादेव मेले के समकक्ष नहीं लगेगा निजी मेला

श्री पशुपतिनाथ महादेव मेले के समकक्ष नहीं लगेगा निजी मेला

इस पर कलेक्टर  ने त्वरित कार्यवाही करते हुए कलेक्टर श्री पुष्प ने एसडीएम, तहसीलदार कस्बा पटवारी व प्रशासनिक अधिकारी व मेला व्यवस्थापक श्रीमती गोस्वामी के साथ एक बैठक आयोजित कर उन्होंने निजी मेले को नहीं लगाने के आदेश दिये तथा निजी मेला लगाने वालों केा नोटिस जारी करने तथा विगत 4 सालों से निजी मेला की जांच करने के आदेश दिये।

                    श्रीमती गोस्वामी ने बताया कि भगवान श्री पशुपतिनाथ महादेव मेला-2019 दिनांक 08.11.2019 से प्रारंभ हो चुका है। जिसे नगरपालिका मंदसौर द्वारा आयोजित किया जा रहा है तथा दूर-दूर से व्यापारी आकर इस मेले में अपना व्यवसाय करते है। लेकिन इसी मेले के समीप कलेक्टर महोदय के अधीन भूमि पर निजी ठेकेदारों द्वारा नियमों के विपरित, मनमाने तरीके से तथा बिना कलेक्टर महोदय की अनुमति के मेला आयोजित करने का प्रयास किया जा रहा था। जिससे मेले की प्रतिष्ठा को ठेस पहुंच रही थी तथा मेले के व्यापारियों को भी नुकसान हो रहा था। इस बाबत् मेला व्यापारियों ने भी अपनी आपत्ति दर्ज कराई थी।  कलेक्टर के अधीन मंदसौर कस्बे की भूमि सर्वे नं. 2979, 2980, 2981, 2982, 2983, 2984, 2985, 2987, 2988, 2993, 3002, 3004, 3005, 3006, 3007, 3008, 3009, 3010, 3011, 3012, 3013, 3034, 3035, 3036, 3037 व 3038 पर उक्त निजी मेला लगाने हेतु बल्लिया लगा दी गई थी तथा उस भूमि को समतल किया जा रहा थी जो जिला प्रशासन एवं नगरपालिका प्रशासन की बिना अनुमति किया जाकर अपराधिक कार्य किया जा रहा थी जिसे तत्काल रोका जाने की मांग की गई। इस मेले में 7500/- रू. प्रति दुकान के मान से बेचे जा रही थी।
श्रीमती गोस्वामी ने निजी मेले की जगह नगरपालिका मेला व्यवसायियों को नगरपालिका के जरिये दुकान आवंटित करने की सलाह भी दी गई जिस कलेक्टर ने विचार कर निर्णय लेने का आश्वासन दिया।  श्रीमती गोस्वामी ने निजी मेला नहीं लगाने के निर्णय पर कलेक्टर श्री पुष्प, नपाध्यक्ष श्री शेख और सीएमओ श्रीमती प्रधान का आभार किया है

About the author /


Post your comments

Your email address will not be published. Required fields are marked *