लाखों रुपए डकारने वाला सहायक प्रबंधक निलंबित

4:46 pm or November 8, 2019
लाखों रुपए डकारने वाला सहायक प्रबंधक निलंबित
मोहम्मद सईद
लाखों रुपए डकारने वाला सहायक प्रबंधक निलंबित

लाखों रुपए डकारने वाला सहायक प्रबंधक निलंबित

शहडोल 8 नवंबर ; अभी तक ; संवदेनशील और अपनी तेज तर्रार कार्यशैली के लिए पहचाने जाने वाले कमिश्नर आर बी प्रजापति से संभाग में उन लोगों में न्याय के प्रति आस जगी है जो अनियमिताओं और भ्रष्टाचार को लेकर संघर्ष कर रहे हैं। पिछ्ली कई कार्यवाही की तरह ही कमिश्नर श्री प्रजापति ने एक और कार्यवाही की है। शिकायत की जांच के बाद कमिश्नर श्री प्रजापति के आदेश पर अब लाखों रूपए का गड़बड़ झाला करने वाला एक सहायक प्रबंधक निपट गया है। वहीं एक बीएमओ और एक वरिष्ठ अध्यापक को कारण बताओ नोटिस जारी किया गया है।

           जानकारी के अनुसार जिला सहकारी केन्द्रीय बैंक मर्यादित शहडोल में पदस्थ सहायक प्रबंधक के के पयासी ने कर्मचारियों के सातवें वेतनमान कुल 11 लाख 58 हजार का गड़बड़झाला किया था। इसकी शिकायत कमिश्नर श्री प्रजापति से की गई थी। जांच में सहायक प्रबंधक केके पयासी पर लगे सभी आरोप सही पाए गए जिसके बाद कमिश्नर श्री प्रजापति ने सहायक प्रबंधक केके पयासी को निलंबित किए जाने का आदेश मुख्य कार्यपालन अधिकारी को दिया था। मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला सहकारी केन्द्रीय बैंक मर्यादित शहडोल द्वारा कमिश्नर शहडोल संभाग के निर्देश के परिपालन में के के पयासी सहायक प्रबंधक जिला सहकारी केन्द्रीय बैंक मर्यादित शहडोल को निलंबित कर उनका मुख्यालय शाखा राजेन्द्रग्राम नियत किया गया है।
बिल के लिए मांग रहे कमीशन
                  कमिष्नर आर बी प्रजापति ने खण्ड चिकित्सा अधिकारी बुढ़ार डॉ सचिन कारखुर को कारण बताओं नोटिस जारी की गई है। जारी नोटिस में उल्लेखित किया गया है कि रेखा आठनेरिया महिला स्वास्थ्य कार्यकर्ता अमलाई सेक्टर सेक्षन झगरहा बुढ़ार जिला शहडोल द्वारा समक्ष मंे उपस्थित होकर बयान देकर अवगत कराया है कि शासन द्वारा प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र को दी जाने वाली राशि 20 हजार रूपये विगत 6 वर्षाे से नही डाली गई है। जिसके कारण स्वयं के खर्चे से उप स्वास्थ्य केन्द्रों मंे साफ सफाई का कार्य कराया जाता है तथा अधिकारियांे के भ्रमण के दौरान लिपाई पोताई का कार्य कराया जा रहा है तथा उन बिलो के भुगतान के एवज में 20 प्रतिषत का कमीशन लिया जाता है। साथ ही शासन के गाइड लाइन के अनुसार एक वित्तीय वर्ष में 20 हजार रूपये राषि डाली जानी चाहिए किन्तु आपके द्वारा मात्र 18 हजार रूपये खाते में डाली गई।
                   उक्त कृत्य के लिए क्यों न आपके विरूद्ध मध्यप्रदेष सिविल सेवा (वर्गीकरण नियंत्रण तथा अपील) नियम 1966 के सहपठित नियम 10(4) के तहत आपकी आगामी 2 वार्षिक वेतन वृद्धियंा असंचयी प्रभाव से रोकी जावें। डॉ0 सचिन कारखुर को मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी के माध्यम से कारण बताओं नोटिस जारी कर 7 दिवस के अंदर जबाव चाहा गया है।
अन्य के खाते में डाली राशि
कमिष्नर श्री प्रजापति ने वरिष्ठ अध्यापक (प्रभारी प्राचार्य) शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय पड़मनिया विकासखण्ड पुष्पराजगढ़ वर्तमान शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय पटनाकला विकासखण्ड जैतहरी जिला अनूपपुर के विरूद्ध सिविल सेवा (वर्गीकरण नियंत्रण तथा अपील) नियम-1966 के अधीन प्रस्तावित कार्यवाही में स्वयं का पक्ष प्रस्तुत करने हेतु पत्र जारी कर 7 दिवस के अंदर जबाव मॉगा है। श्री झा पर आरोप है कि शासकीस उच्चतर माध्यमिक विद्यालय पड़मनिया विकासखण्ड पुष्पराजगढ़ जिला अनूपपुर मंे वर्ष 2014-15 मंे छात्र-छात्राओं को दी गई। साईकिल वितरित राषि के संबंध मंे अपने पद का दुरूपयोग करते हुए सायकल हेतु 68 छात्र-छात्राएॅ पात्रता रखते थे और आपके द्वारा पात्र 51 तथा अपात्र 3 छात्र-छात्राओं को सायकिल राशि दी गई। संस्था मंे दर्ज सायकिल हेतु 17 छात्र लाभ से वंचित रहे। इसी प्रकार अन्य आर्थिक अनियमितता की गई। इसी प्रकार साईकिल वितरण राशि अन्य व्यक्ति के खाते में डाल कर शासकीय राषि का गमन किया गया है। आपका उक्त कृत्य मध्यप्रदेष सिविल सेवा  श्री झॉ को नोटिस जारी कर 7 दिवस के अंदर जबाव चाहा है। निर्धारित समय मंे जबाब प्रस्तुत नही करने पर यह माना जायेगा कि श्री झॉ को अपने बचाव मंे कुछ नही कहना और उनके विरूद्ध एकतरफा कार्यवाही की जावेगी।

About the author /


Post your comments

Your email address will not be published. Required fields are marked *